होम चर्चित विषय बड़नगर नगर पालिका द्वारा अंधाधुन शुल्क वृद्धि के विरोध में जनता का...

बड़नगर नगर पालिका द्वारा अंधाधुन शुल्क वृद्धि के विरोध में जनता का प्रदर्शन

बड़नगर के जाने माने वकील एवं निशुल्क विधिक सहायता प्रदान कर सालों से जन सेवा करने वाले अनेको समाजिक मुद्दों पर स्पष्ठ विचार रखने वाले एडवोकेट गणेश रावल ने एक बार फिर जनता की आवाज को नेतृत्व प्रदान किया है ।

बड़नगर नगर पालिका

अंधाधुन शुल्क वृद्धि को लेकर समाजसेवी गणेश रावल के नेतृत्व में जनता का शक्ति प्रदर्शन -: लेखन एवं संकलन मिलिन्द्र त्रिपाठी जब नेता सोये होते है तब किसी युवा को बीड़ा उठाकर जनता को हो रही पीड़ा से मुक्त करना होता है ।

उनके नेतृत्व में सैकड़ों की संख्या में महिलाओं पुरुषों ने अभियान काे समर्थन दिया। कहा कि बढ़ा हुआ टैक्स किसी हालत में नहीं दिया जाएगा।एडवोकेट गणेश रावल जनता की आवाज उठाकर अंजाम तक पहुंचाने के लिए संपूर्ण जिले में जाने जाते है ।

बड़नगर के पक्ष विपक्ष के नेताओं को जब जनता से सरोकार नही रहा तब जनता ने समाजसेवी गणेश रावल के पास न्याय के लिए दरवाजा खटखटाया ।

2 दिन पूर्व चेतावनी देने के बाद भी नगर पालिका परिषद बड़नगर द्वारा जब शुल्क वृद्धि को वापस नही लिया गया तब बड़नगर के प्रसिद्ध समाजसेवी एवं विधिक सहायता प्रदान करने वाले एडवोकेट गणेश रावल को खुला मोर्चा खोलना पड़ा ।

10 अगस्त 2020 को बड़नगर शहर की मुख्य समस्या, कोरोना काल मे नगर पालिका परिषद द्वारा मनमाने तरीके से की गई, कर वृद्धि,शुल्क निर्धारण ओर वसूली करवाई जैसी गंभीर समस्या को निरस्त करवाने के लिए नगर पालिका प्रशासक,एसडीएम बड़नगर को नगर के वरिष्ठ जन की उपस्थिति में ज्ञापन दिया गया,

ओर नगर की उक्त समस्या को तुरन्त हल करने की मांग की गई है ।एडवोकेट रावल ने कहां की बड़नगर क्षेत्र वासियो के साथ अन्याय सहन नही करेंगे, हमेशा नगरवासियों के हित की लड़ाई लड़ेंगे ।

नगर के सम्मानीय बंधुओं ने आज इस ज्ञापन के समय उपस्थित होकर इस अभियान को सफल बनाया इसलिए सभी का धन्यवाद देते हुए गणेश रावल ने कहां की जल्द ही समस्या के निराकरण के लिए आश्वासन दिया गया है ।

यदि प्रशासन अपनी बात पर कायम नही रहता है तो ओर बड़े आंदोलन की रूपरेखा बनाई जाएगी । वर्तमान में कोरोना काल के दौरान शुल्क बढाने से जनता के ऊपर दोहरी आर्थिक मार पड़ी है ।

प्राइवेट नौकरी वालो को कोरोना काल मे सैलरी तक नही मिली है ऐसे में शुल्क वृद्धि ने जनता को ओर अधिक परेशान कर दिया है ।

एडवोकेट रावल ने मीडिया से बात करते हुए कहाँ की बिना सुविधा के नगर पालिका बड़नगर द्वारा अंधाधुन टैक्स वसूली की जो प्रयास की जा रही है, हम शहरवासी उसका विरोध करते हैं ।

जनप्रतिनिधि सांसद, विधायक से लेकर नगर निगम के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, वार्ड पार्षद जनता के सवाल पर चुप्पी साधे हुए हैं । यह अपनी जवाबदेही जिम्मेदारियों को निभा नहीं पा रहे हैं ।

जिस वजह से हम शहरवासियों को आज सड़कों पर उतरने को मजबूर होना पड़ा है । एसडीएम से मांग करते हुए कहाँ है कि कृपया आप हस्तक्षेप करें और शहरवासियों को प्रताड़ित करने का जो प्रयास किया जा रहा है, उससे उन्हें बचाया जाये ।

(उक्त लेख के किसी भी हिस्से को एवं प्रयुक्त फोटो को लेखक की सहमति के बिना कॉपी करना गैरकानूनी है ,कॉपी करने पर कानूनी कार्यवाही की जाएगी )

लेखन एवं संकलन मिलिन्द्र त्रिपाठी

milindrahttps://jansarkarnews.com
योगाचार्य पं.मिलिन्द्र त्रिपाठी उज्जैन मध्यप्रदेश शिक्षा -: एमएससी योग थैरेपी, पीजी डिप्लोमा योग दर्शन ,एम. ए पत्रकारिता , एल.एल.बी ,एम एस डब्लू ,बी.सी.ए पद – सचिव उज्जैन योग संघ संस्थापक उज्जैन योगा इंस्टीट्यूट संपर्क 9977383800 ,9098369093

Leave a Reply

Most Popular

उज्जैन कुलपति ने खुद ली विद्यार्थियों की क्लास शिक्षक के तौर पर कुलपति को पाकर चौक उठे विद्यार्थी

कुलपति चैंबर छोड़ अचानक क्लास लेने पहुंचे विक्रम विश्व विद्यालय के कुलपति -: कुलपति ने खुद ली विद्यार्थियों की...

उज्जैन योग संघ द्वारा आयोजित योग कॉन्फ्रेंस में बड़ी संख्या में शामिल हुए योगाचार्य

उज्जैन योग संघ द्वारा आयोजित योग कॉन्फ्रेंस में बड़ी संख्या में शामिल हुए योगाचार्य -:

म.प्र. के अनेक विश्वविद्यालय में योग शिक्षा के नाम पर हो रही धांधली राज्यपाल से उच्च स्तरीय जांच की मांग

म.प्र. के अनेक विश्वविद्यालय में योग शिक्षा के नाम पर हो रही धांधली राज्यपाल से उच्च स्तरीय जांच की मांग -:

उज्जैन योग संघ की नवीन कार्यकारणी घोषित

उज्जैन योग संघ की नवीन कार्यकारणी घोषित -: मध्यप्रदेश शासन से मान्यता प्राप्त उज्जैन में योग की सबसे बड़ी...

Recent Comments