होम देश विदेश गौ माता के शरीर पर विज्ञापन छापना कांग्रेस की घृणित मानसिकता और...

गौ माता के शरीर पर विज्ञापन छापना कांग्रेस की घृणित मानसिकता और हिंदुओं की आस्था से खिलवाड़ है

गौ माता के शरीर पर विज्ञापन छापना कांग्रेस की घृणित मानसिकता और हिंदुओं की आस्था से खिलवाड़ है । लेखन एवं संकलन मिलिन्द्र त्रिपाठी ।
पशु क्रूरता निवारण अधिनियम के तहत प्राथमिकी दर्ज होनी चाहिए ।

मध्यप्रदेश के सांवेर में होने वाले उपचुनाव के पहले कांग्रेस ने फिर हिंदुओं की आस्था को चोट पहुंचाने वाले कृत्य को अंजाम दिया है । केरल में कांग्रेस के नेताओं ने एक गाय के मासूम बछड़े को काटकर बीफ पार्टी बीच चौराहे पर की थी । आज तक इस घृणित घटना को देश भुला नही है ।

चुनाव के समय नकली हिन्दू होने का ढोंग करने वाले कांग्रेसी वक्त आते ही अपना असली रंग दिखा देते है । क्या हमारी गौमाता पर विज्ञापन पोतना हिन्दू धर्म की आस्था से खिलवाड़ नही है ? गौ माता को काटकर बीच सड़क पर पार्टी करने वाले लोग आज गौ माता को बांधकर उसपर विज्ञापन छाप रहें है ? कांग्रेस उम्मीदवार ने प्रचार के लिए गाय के शरीर को पोस्टर की तरह उपयोग किया है।

गाय के शरीर पर वोट मांगने के लिए सांवेर से कांग्रेस उम्मीदवार का नाम लिखा हुआ है। वायरल हो रही इस तस्वीर में गाय के ऊपर कांग्रेस का प्रचार लिखा हुआ दिख रहा है । साथ ही कांग्रेस का चुनाव चिह्न भी छपा हुआ है। गाय सड़क पर खड़ी है। आज विवाद बढ़ता देख कांग्रेसियों ने गाय को गायब कर दिया है ।

लेकिन चाह कर भी फोटो को गायब नही कर पा रहें है ।

गाय काटने ओर गौ मांस की पार्टी करना कांग्रेस का असली चेहरा है -:

गाय के मासूम बछड़े को काटकर पार्टी करने वाले कांग्रेसी नेताओं का राहुल प्रियंका से करीबी रिश्ता -:

2017 में केरल में गाय के बछड़े का मांस काटकर पार्टी करने वाला तथा गोहत्या करने वाला कांग्रेसी कार्यकर्ता रिजील मुकुत्टी केरल विधानसभा का चुनाव लड़ चुका है। मुकुट्टी साल 2011 के केरल विधानसभा चुनाव में थालेसरी सीट से चुनाव लड़ चुका है।गाय काटने वालो के राहुल गांधी और प्रियंका गांधी से नजदीकी संबध है और साथ के उनके फोटो भी उनके सोशल मीडिया पर आसानी से उपलब्ध है ।

20 फरवरी 2020 की घटना से समझिए कांग्रेस का असली चेहरा क्या है -:

केरल के कोझीकोड में कांग्रेस के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने जानबूझकर एक पुलिस स्टेशन के सामने बीफ़ पार्टी का खुलेआम आयोजन किया। खुलेआम बीफ खाई भी और लोगों को जानबूझकर खिलाई भी। कोझीकोड के मुक्कम पुलिस स्टेशन के सामने यह घृणित घटना हुई और पुलिस मूक दर्शक बनी रही।

कांग्रेस के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने केरल में पुलिस ट्रेनिंग कैंप के मेन्यू में से बीफ को हटाए जाने का विरोध किया। उनका कहना था कि गाय का मांस खाना हमारा अधिकार है ।

लेखन एवं संकलन मिलिन्द्र त्रिपाठी

milindrahttps://jansarkarnews.com
योगाचार्य पं.मिलिन्द्र त्रिपाठी उज्जैन मध्यप्रदेश शिक्षा -: एमएससी योग थैरेपी, पीजी डिप्लोमा योग दर्शन ,एम. ए पत्रकारिता , एल.एल.बी ,एम एस डब्लू ,बी.सी.ए पद – सचिव उज्जैन योग संघ संस्थापक उज्जैन योगा इंस्टीट्यूट संपर्क 9977383800 ,9098369093

Leave a Reply

Most Popular

केसरिया हिन्दू वाहिनी मध्यप्रदेश की वृहद बैठक उज्जैन में सम्पन्न

केसरिया हिन्दू वाहिनी मध्यप्रदेश की वृहद बैठक उज्जैन में सम्पन्न -:

भारत सरकार द्वारा गठित MPYSA द्वारा योग स्टेट जज के प्रमाण पत्र से डॉ.मिलिन्द्र त्रिपाठी को किया गया सम्मानित

भारत सरकार द्वारा गठित MPYSA द्वारा योग स्टेट जज के प्रमाण पत्र से किया गया सम्मानित -: मेरे लिए गौरवशाली क्षण

उज्जैन कुलपति ने खुद ली विद्यार्थियों की क्लास शिक्षक के तौर पर कुलपति को पाकर चौक उठे विद्यार्थी

कुलपति चैंबर छोड़ अचानक क्लास लेने पहुंचे विक्रम विश्व विद्यालय के कुलपति -: कुलपति ने खुद ली विद्यार्थियों की...

उज्जैन योग संघ द्वारा आयोजित योग कॉन्फ्रेंस में बड़ी संख्या में शामिल हुए योगाचार्य

उज्जैन योग संघ द्वारा आयोजित योग कॉन्फ्रेंस में बड़ी संख्या में शामिल हुए योगाचार्य -:

Recent Comments