होम देश विदेश पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी की मौत की भी फर्जी खबर

पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी की मौत की भी फर्जी खबर

पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी की मौत की भी फर्जी खबर ऐसी खबरों से सोशल मीडिया बदनाम -:

सोचिये जीते जी एक इन्शान की मौत की खबर चला दी जाए तब उसके परिवार पर क्या गुजरेगी ? हम जल्दीबाजी के लालच में मानव संवेदनाओं को क्यो भूलते जा रहें है ?

सर्वविदित है कि पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी का इलाज़ चल रहा है,उनके निधन की ख़बर फ़र्ज़ी है–अभिजीत मुखर्जी (प्रणव मुखर्जी के पुत्र का ट्वीट) लोग जिनमें कुछ अतिउत्साही पत्रकार भी शामिल हैं,पता नहीं क्यों हमेशा इतनी जल्दी में रहते हैं।

क्या अपनी टीआरपी के चक्कर मे यह सबसे आगे दिखने के प्रयास में खबरों की वास्तविकता की जांच भी नही करते । सोशल मीडिया पर फर्जी खबर डलते ही टॉप ट्रेड में आ गयी ।

यदि में भी खबर की जांच नही करता तो अब तक इस गलत ट्रेड के चक्कर मे फंस चुका होता क्योंकि यह गलत ट्रेड तेजी से वायरल हो रहा है ।

और कई ब्लू टिक वाले सोशल मीडिया खातों से यह फर्जी खबर चला दी गयी है । सभी जानते है कि ब्रेन क्लॉट सर्जरी के बाद देश के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी वेंटिलेटर सपोर्ट पर हैं ।

अस्पताल में उनकी हालत बेहद नाजुक बनी हुई है। इसी बीच उनकी मौत की झूठी अफवाह उड़ा दी गयी । परेशान परिजन खबरों का खंडन कर रहें है ।

उनकी बेटी और कांग्रेस नेता शर्मिष्ठा मुखर्जी ने कहा कि पूर्व राष्ट्रपति की मौत की खबर झूठी एवं फर्जी है ।

हालांकि उनकी तबीयत में मामूली सुधार जारी है । इस समय पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की हालत लगातार नाजुक बनी हुई है और वह जीवनरक्षक प्रणाली पर हैं ।

ऐसे में उनके लिए दुआ करनी चाहिए कि वो शीघ्र स्वस्थ हो जाये । सेना के रिसर्च एंड रेफरल अस्पताल ने एक बयान में कहा, ”प्रणब मुखर्जी की हालत लगातार बेहद नाजुक बनी हुई है। इस समय उनकी हालत रक्त प्रवाह के लिहाज से स्थिर है और वह वेंटिलेटर पर हैं। ”

हाल ही में पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी कोरोना वायरस (COVID-19) से संक्रमित हो गए है। उन्होंने खुद अपने ट्विटर पर ट्वीट करके इसकी जानकारी साझा की है। प्रणब मुखर्जी ने ट्वीट करके कहा कि अस्पताल में टेस्ट के बाद मैं कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया हूं।

पिछले एक हफ्ते में जो भी लोग मेरे संपर्क में आए हैं, मैं उनसे अपील करता हूं कि वो सभी टेस्ट करवाएं और आइसोलेट हो जाएं। बता दें कि हाल ही में देश के कई राजनेता और वीवीआइपी कोरोना से संक्रमित हुए हैं।

इनमें केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, कर्नाटक और मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री और सदी के महानायक अमिताभ बच्चन प्रमुख हैं। फर्जी खबरों को तूल देने की जगह उन्हें रोकना चाहिए और परिचितों को ऐसी खबर डालने से फोन करके रोकना चाहिए ।

कोई भी इन्शान चाहे वीआइपी हो या साधारण किसी के मौत की खबर से उसका पूरा परिवार आहात हो जाता है । ऐसी संवेदनहीनता ठीक नही है ।

(उक्त लेख के किसी भी हिस्से को एवं प्रयुक्त फोटो को लेखक की सहमति के बिना कॉपी करना गैरकानूनी है ,कॉपी करने पर कानूनी कार्यवाही की जाएगी )

लेखन एवं संकलन मिलिन्द्र त्रिपाठी

पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी की मौत की फर्जी खबर

पूर्व राष्ट्रपति की मौत की फर्जी खबर

milindrahttps://jansarkarnews.com
योगाचार्य पं.मिलिन्द्र त्रिपाठी उज्जैन मध्यप्रदेश शिक्षा -: एमएससी योग थैरेपी, पीजी डिप्लोमा योग दर्शन ,एम. ए पत्रकारिता , एल.एल.बी ,एम एस डब्लू ,बी.सी.ए पद – सचिव उज्जैन योग संघ संस्थापक उज्जैन योगा इंस्टीट्यूट संपर्क 9977383800 ,9098369093

Leave a Reply

Most Popular

केसरिया हिन्दू वाहिनी मध्यप्रदेश की वृहद बैठक उज्जैन में सम्पन्न

केसरिया हिन्दू वाहिनी मध्यप्रदेश की वृहद बैठक उज्जैन में सम्पन्न -:

भारत सरकार द्वारा गठित MPYSA द्वारा योग स्टेट जज के प्रमाण पत्र से डॉ.मिलिन्द्र त्रिपाठी को किया गया सम्मानित

भारत सरकार द्वारा गठित MPYSA द्वारा योग स्टेट जज के प्रमाण पत्र से किया गया सम्मानित -: मेरे लिए गौरवशाली क्षण

उज्जैन कुलपति ने खुद ली विद्यार्थियों की क्लास शिक्षक के तौर पर कुलपति को पाकर चौक उठे विद्यार्थी

कुलपति चैंबर छोड़ अचानक क्लास लेने पहुंचे विक्रम विश्व विद्यालय के कुलपति -: कुलपति ने खुद ली विद्यार्थियों की...

उज्जैन योग संघ द्वारा आयोजित योग कॉन्फ्रेंस में बड़ी संख्या में शामिल हुए योगाचार्य

उज्जैन योग संघ द्वारा आयोजित योग कॉन्फ्रेंस में बड़ी संख्या में शामिल हुए योगाचार्य -:

Recent Comments